वर्तमान में आम आदमी पार्टी भ्रष्टाचार में सबसे आगे, आम आदमी पार्टी कार्यकर्ता ने किया खुलासा।

0
571

अन्ना आंदोलन के बाद से ही अरविंद केजरीवाल गंदी राजनीति में सक्रिय होने लगे थे, जिस भ्रष्टाचार के खिलाफ अन्ना हज़ारे ने जंग छेड़ी थी आज वर्तमान में भ्रष्टाचारियो में सबसे आगे श्री श्री अरविंद केजरीवाल जी ही दौड़ रहे हैं, हालांकि उन्हें कोई पछतावा नही है, उन्हें कोई डर नही है, मुह पर बोलके भ्रष्टाचार करने वाले पहले नेता आम आडमी पार्टी के श्री अरविंद केजरीवाल 🙂

जैसे कि सब जानते हैं हज़ारो की संख्या में अन्ना आंदोलन के साथ लोग जुड़ते चले गए, जैसे जैसे आंदोलन आगे बढ़ता रहा वैसे वैसे लोग गुटों में बटतें गये, एक गुट अन्ना हज़ारे किरण बेदी का और एक गुट अरविंद केजरीवाल का जिसने राजनीति में कदम रखा, हज़ारो की संख्या में चेले-चपाटे भी उनके साथ मौजूद रहे और अपनी सरकार आने का इंतज़ार करते रहे।

मैं भी अन्ना आंदोलन में सक्रिय था, चाहता था जनलोकपाल बिल पास हो, देश को भ्रष्टाचार से मुक्ति मिले, परंतु आंदोलन खत्म हो जाने के बाद मैं भी केजरीवाल जी से जुड़ गया, अपने परिवार के सभी लोग भाजपा में थे, पर वर्षो काम करने के बाद भी कोई पद का जिम्मेदारी नही मिली थी। तो अपने पिताजी को और उनके कई साथियो को आम आज़मी पार्टी से जुड़ने की सलाह दी, नही माने वे लोग, केजरीवाल जी को ढोंगी कहते थे, पर मैं उन्हें काउंटर करता था और कहता था कि एक दिन आएगा जब आम आदमी की सरकार बनेगी एयर आप यहां आने पर मजबूर हो जाएंगे।

ऐसा ही हुआ, दिल्ली में केजरीवाल जी ने सरकार बनाई परंतु इस्तीफा दे दिया, लेकिन दोबारा हुए चुनावों में जनता ने बहुत ही भारी मेंडेट दिया, आखिर फ्री बिजली, पानी का वादा किया था। अब मेरे लितजी समेत कई उनके मित्र आम आदमी पार्टी से जुड़ चुके थे, इन सबको उम्मीद थी कि यहां नई पार्टी है, काम करेंगे कुछ न कुछ पद मिलेगा जनता की सेवा करने को।

मेरे पिताजी जाने लगे, और पार्टी के हर काम मे बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया, लगभग 2 साल हो चुके है अब MCD एलेक्शन्स आये हैं, पार्टी को अंदर से समझ गए थे मेरे पिताजी की क्या चल रहा है, हमारे क्षेत्र की विधायक सरिता सिंह की शादी का कार्ड आया, बातचीत के दौरान लाता चला कि अभिनव राय सरिता सिंह की तरह अन्ना आंदोलन का हिस्सा रहा और केजरीवाल जी के साथ निकल आया था।

मेरे पिताजी ने मुझे बताया कि अभिनव राय, गोपाल राय का OSD है और बिना किसी इंटरव्यू या पेपर दिए उसे ये पद मिला है, पूरे दिन इंनोवा में घूमता है, विधायक से शादी हो गयी है और क्या चाहिए अब उसे, मैं आम आदमी पार्टी की विचारधारा से अलग हो चुका था उनके राजनीति के तरीके को देखकर, फिर भी मैन विश्वास नही किया कि कोई व्यक्ति केवल कार्यकर्ता होने के आधार पर सरकारी नौकरी पा सकता है, जिसकी तनखा 87,000 प्रति माह है।

दिन बीत रहे थे, मैं मोदी समर्थक हो चुका था, मेरे पिताजी ने अंदर की कई ऐसी बाते बताई, की कई पदों पर बिना किसी नियम को फॉलो किये हुए अपने ही कार्यकर्ताओ को केजरीवाल ने फसाया है एयर अच्छे पैसे छाप रहे हैं सब, यहां टिकट मिलने की दौड़ में जतन प्रधान और 2-3 व्यक्ति खड़े थे जिसमें मेव पिताजी भी थे, पर अंततः जतन प्रधान ने 30 लाख रुपये पार्टी फण्ड में जमा कर सब ईमानदारी आए काम कर रहे लोगों के चुनाव लड़ने के सपनो पर पानी फेर दिया था। मुझे अब भी विश्वास नही हो रहा था कि ये सब आम आदमी पार्टी में हो रहा है

खबरें चली की सत्येंद्र जैन की लड़की को लीगल एडवाइजर बना दिया, विधायको को फ्लैट आल्लोट कर दिया, तनख्वाह बढ़ाने की बातें चली, अब मेरा इस पार्टी से विश्वास उठ चुका था, मैं समझ गया था भ्रष्टाचार ने इस पार्टी को भी जकड़ लिया है। शुंगलू कमेटी की रिपोर्ट को विस्तार आए पढ़ रहे सुधीर चौधरी को सुन सब कन्फर्म हो गया, जो भी बाते मैन अपने पिताजी से सुनी सब उस रिपोर्ट में लिखा था, मेरा ध्यान सबसे ज्यादा अभिनव राय जो सरिता सिंह का पति व गोपाल राय का OSD है उसके नाम पे गया। शुंगलू कमेटी की रिपोर्ट में यही बातें लिखी थी कि अवैध नियुक्ति की गई है।

सब सच निकला, केजरीवाल सरकार उस दलदल में फंसी नही डूब गई, बिना किसी नियमो के अवैध नियुक्तियां की गई, अपने रिश्तेदारों को फायदा पहुचाया गया, अपने वकील की फीस टैक्स पेयर के पैसे से दी गयी, हज़ारो रुपयों की थाली खाई गयी, करोड़ो के समोसे खाये गए, होर्डिंगों को अम्बर लगा दिया गया। सब सरकारी कामो में अपने कार्यकर्ताओं व् रिश्तेदारों को फायदा पहुचायां गया!

आज एक बात और पता चली जो जतन प्रधान है रोहताश नगर विधायक सरिता सिंह ने उसके लड़के को ही यहां के मोहल्ला क्लिनिक बनवाने का टेंडर दिलवाया है, मैं आश्चर्यचकित नही हूँ, दुखी हूं इस गंदी और भ्रष्ट राजनीति से।

~अमन कौशिक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here